जावा प्रोग्रामिंग क्या है,
         Java Programing Kya hai 

Introduction to C++ Variables 

किसी भी तरह के डाटा को कम्प्यूटर्स मेमोरी में स्टोर करने के लिए आप variables का use करते है। easy Word में कहें तो variables किसी box की तरह होते है जिसमें आप values को स्टोर करते है। Technically variables एक कम्प्यूटर memory location होती है जिसे एक नाम दिया जाता है और उस मेमोरी location पर values store की जाती है। बाद में इसी Name को use करते हुए आप स्टोर की गयी वैल्यू पर अलग अलग operations परफॉर्म करते है।

Variables की values चेंज की जा सकती है। Example के लिए यदि आपने किसी variable में 5 स्टोर किया है तो आप इसे बदल करके 10 कर सकते है। ऐसा आप खुद manully भी कर सकते है या फिर किसी operation के द्वारा भी ऐसा किया जा सकता है।

Creating Variables

C++ में भी C भाषा की तरह ही variables क्रिएट किये जाते है। Variables create करने का जनरल syntax निचे दिया जा रहा है।

data_type variable_name;
 
C++ में variables create करने के लिए सबसे पहले आप ये डिफाइन करते है की आप किस तरह की वैल्यू उस variable में store करेंगे। ऐसा आप डाटा टाइप डिफाइन करके करते है। डाटा टाइप से compiler को पता चलता है की किस तरह की वैल्यू एक particular variable में स्टोर की जायेगी, इस जानकारी के बेस पर compiler जितनी मोमेरी required होती है उतनी इस variable को अलोट  करता है।

डाटा टाइप डिफाइन करने के बाद variable का एक यूनिक नाम डिफाइन किया जाता है। आप एक नाम के 2 variables नहीं क्रिएट कर सकते है। जैसा की आपको पता है की C++ एक केस sensitive भाषा है, इसलिए upper case और lower case variables अलग अलग माने जाते है। उदाहरण के लिए age और Age दो अलग variables माने जायेंगे।

आइये अब C++ में variables क्रिएट करना एक Example के माध्यम से समझने का प्रयास करते है।

int age;

ऊपर दिए गए Example में integer type का variable क्रिएट किया गया है। इस variable का नाम age है।
Intializing Variables
Variables में वैल्यू स्टोर करना variable intialization कहलाता है। किसी भी variable में वैल्यू स्टोर करवाने के लिए सबसे पहले आप उस variable का Name लिखते है, इसके बाद assignment operator लगाकर आप वह वैल्यू लिखते है जिसे आप इस variable में स्टोर करना चाहते है। इसका जनरल syntax निचे दिया जा रहा है।

variable_name = value;

आइये अब इसे एक Example से समझने का try करते है। मान लीजिये आप ऊपर create किये गए variable को वैल्यू assign करवाना चाहते है तो ऐसा आप इस प्रकार कर सकते है।

age = 29;

 आप चाहे तो variable क्रिएट करते समय भी वैल्यू assign कर सकते है। इसका Example निचे दिया जा रहा है।
 
int age = 29;



यदि आप user से वैल्यू input करवाना चाहते है तो इसके लिए आप cin इनपुट statement का प्रयोग करते है। Input और आउटपुट स्टेटमेंट के बारे में और अधिक आप C++ I/O System की tutorial से पढ़ सकते है। इसका जनरल syntax निचे दिया जा रहा है।


cin>>variable-name;


Example के लिए आप age variable की value user से इनपुट करवाना चाहते है इसके लिए आप इस प्रकार स्टेटमेंट लिखेंगे।


cin>>age;


जब ऊपर दिया गया स्टेटमेंट execute होगा तो console विंडो खुलेगी जिसमें user अपनी वैल्यू type कर सकता है। User के एंटर press करने पर लिखी गयी वैल्यू variable को assign हो जाएगी।

Displaying Variables

किसी भी variable की वैल्यू console स्क्रीन पर display करने के लिए आप cout स्टेटमेंट का प्रयोग करते है। इसका जनरल syntax निचे दिया जा रहा है।
   
cout<


Example के लिए यदि आप age variable की value प्रिंट करना चाहते है तो ऐसा आप इस प्रकार कर सकते है।


cout<


Scope of Variables

C++ में variables उनके स्कोप के अनुसार 2 प्रकार के होते है ।

1. Global Variables
2. Local Variables

1 Comments

  1. 🤗🤗🤗 Bhai mujhe thoda or details chahiye is java programme k

    ReplyDelete

Post a Comment

Previous Post Next Post